राजा और भिखारी में बड़ा कौन कहानी, Rajao ki kahani

Rajao ki kahani | Raja ki kahani in hindi

राजा और भिखारी में बड़ा कौन कहानी, Rajao ki kahani, (raja ki kahani in hindi) राजा बहुत से राज्य को जीत चुका था लेकिन अभी भी वह और भी जीतना चाहता था क्योंकि उसे सबसे बड़ा बनना था एक दिन raja जब अपने राज्य में घूम रहा था तो एक भिखारी नजर आया भिखारी को देखते ही राजा ने थोड़ा सा उसे दान दिया दान में राजा ने उसे एक सिक्का दिया

राजा और भिखारी में बड़ा कौन कहानी : Rajao ki kahani

hindi story.jpg
Rajao ki kahani

भिखारी ने सिक्का को अपने पास रख लिया और चला गया अगले दिन raja युद्ध की तैयारी कर रहा था Because उसे और भी राज्य जीतने के बाद में अपने राज्य में मिला देता था और अपना राज्य बड़ा बनाता जा रहा था उसके अंदर राज्य को जीतने की हमेशा ही  चिंता लगी रहती थी raja ने सोचा कि जब हम युद्ध पर जाते हैं तो अपने गुरु से ही आशीर्वाद लेते हैं इसलिए राजा अपने गुरु से मिलने गया

प्रिंसेस की कहानी

Advertisements

raja गुरु के पास गया और कहने लगा कि हमें आशीर्वाद दीजिए जिससे हम यह युद्ध जीत जाएं गुरु जी ने जब यह बात सुनी तो वह सोच में पड़ गए Because राजा उनकी बात बिल्कुल भी मानने को तैयार नहीं था वह हर बार एक नए राज्य को जीतने की कोशिश करता था तभी वहां पर खड़ा एक भिखारी राजा के पास आया और एक सिक्का raja का दिया हुआ सिक्का उनके हाथ में रख दिया यह देखकर राजा बहुत गुस्सा हुआ Because एक भिखारी ने उन्हें एक भीख दी थी जबकि raja को यह सब पसंद नहीं है

प्यासे कौआ की नयी कहानी

राजा और साधू की कहानी

raja ने भिखारी को कहा तुम्हें इसकी सजा मिलेगी तुमने हमारे लिए बहुत ही गलत काम किया है पास में खड़े गुरुजी ने कहा कि तुम्हें ऐसा नहीं कहना चाहिए भिखारी तो हमें यह सीख दे रहा है कि तुम्हें और जरूरत है इसलिए वह अपना सिक्का भी तुम्हें ही दे रहा है क्योंकि तुम लालच में हमेशा युद्ध के लिए तैयार रहते हो जबकि तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए तुम्हें अपने सारे काम दूसरों की भलाई के लिए करना चाहिए

जादुई नहर की कहानी

राजा और एक आदमी की कहानी 

Rajao ki kahani, (raja ki kahani in hindi) अब राजा समझ चुका था कि एक भिखारी ने उसे यह शिक्षा दी है कि हमारे पास जितना है हमें उसी में संतोष करना चाहिए ज्यादा लालच नहीं करना चाहिए उस दिन के बाद राजा ने युद्ध करना छोड़ दिया और दूसरों की भलाई के लिए समय देना शुरू कर दिया इससे हमें यह शिक्षा मिलती है कि हमारे पास जो है हमें उसी में संतोष करना चाहिए. अगर आपको यह राजा की कहानी (raja ki kahani in hindi) पसंद आयी है तो आप इस कहानी को आगे भी शेयर कर सकते है और कमेंट करके हमे भी बता सकते है 

Read More Hindi Story :-

शेर की अनोखी नयी कहानी

बंदर और बुढ़िया की कहानी 

एक घर की कहानी 

जादुई घंटी अच्छी कहानी

जादुई चेहरा और जादूगर की कहानी

जादुई आईना किड्स कहानी

जादुई पेंसिल की नयी कहानी 

मुर्गी की नयी कहानी 

तितली की एक नयी कहानी

मोटू और पतलू की कहानी 

चूहे और राजा की कहानी 

राजा का वादा एक कहानी

जादुई जूते और राजकुमारी की कहानी

एक हाथी की कहानी

एक अच्छी मदद की कहानी

सात परियों की कहानी

जादुई मछली की एक नयी कहानी

बीरबल और सेनापति की कहानी

जादुई टिफ़िन की नयी हिंदी कहानी

शिक्षक की नयी सीख

आसमान का रंग कहानी

बच्चों की पाठशाला

अकबर बीरबल की कहानी 

जादुई चक्की की नई कहानी

बकरी की नयी हिंदी कहानी

राजा की अच्छाई की कहानी

इनाम का लालच एक कहानी

पारस पत्थर की कहानी

राजा के उपहार की कहानी

बीरबल की समझदारी

अकबर का नया सवाल

बीरबल की नयी कहानियां

ढोंगी पुजारी की हास्य कहानी

घोड़े की हास्य कहानी

एक चोर की हिंदी कहानी

मंगू की आदत की कहानी

new princess story in hindi

2 thoughts on “राजा और भिखारी में बड़ा कौन कहानी, Rajao ki kahani”

  1. ganguly dobwal

    very nice story and moral

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
+