ढोंगी पुजारी की हास्य कहानी, Majedar Kahaniya

Majedar Kahaniya

हास्य मजेदार कहानियां : (majedar kahaniya) गांव में काफी दिनों से बारिश नहीं हो रही थी इसलिए गांव वाले बहुत परेशान थे वह यही सोच रहे थे अगर बारिश नहीं हुई तो फसल भी खराब हो सकती है (majedar kahaniya) गांव में पानी की व्यवस्था बहुत ही कम थी बारिश का पानी ही फसलों को अच्छी तरह से बचा सकता था लेकिन बारिश कैसे होगी यह कोई नहीं जानता था

ढोंगी पुजारी की कहानी : majedar kahaniya

hindi story.jpg

hasya Majedar Kahaniya

सभी लोग भगवान से प्रार्थना करने के लिए मंदिर में जाते हैं और कहते हैं भगवान जल्दी बारिश कर दो नहीं तो हमारी फसलें खराब हो जाएंगी जिससे हमें बहुत नुकसान होगा मंदिर में पुजारी जी कहते हैं कि अगर तुम चाहो तो मैं बारिश कर सकता हूं मैं भगवान से इस बात के लिए कह सकता हूं जिससे कि बारिश बहुत जल्दी हो जाए सभी गांव वाले कहने लगे पुजारी जी अगर आप ऐसा कर सकते हैं तो इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है

 

क्योंकि आप तो भगवान के मंदिर में हमेशा रहते हैं और आप ही हमारी मदद कर सकते हैं भगवान से कहिए कि जल्दी ही बारिश करना शुरू कर दें पुजारी जी ने कहा कि इसके लिए तो तुम्हें भगवान को चढ़ावा चढ़ाना होगा तभी भगवान सुनेंगे इतना सुनने के बाद सभी गांव वाले बारी-बारी से हर रोज पुजारी जी के यहां पर अच्छा खासा चढ़ावा चढ़ाते हैं और चले जाते

एक अतिथि की कहानी

पुजारी जी बहुत खुश हो रहे थे क्योंकि आज बैठे-बिठाए बहुत कुछ मिल रहा था जब दो-तीन दिन बीत गए तो गांव वालों ने कहा कि अभी तक भी बारिश नहीं हुई है तो पुजारी जी ने कहा कि मैंने भगवान से प्रार्थना की है वह जल्दी ही पूरी करेंगे लोग ऐसा सुनकर फिर अपने घर चले जाते हैं और सोचते हैं कि हो सकता है बारिश होने में काफी देर हो रही हो उसी गांव में एक आदमी रहता था वह यह सोच रहा था कि पुजारी जी कैसे बारिश करवा सकते हैं जबकि बारिश तो अपने हिसाब से ही होती है

इनाम का लालच एक कहानी

उसे पुजारी पर कुछ शक हुआ क्योंकि  हर रोज लोग आते थे और उन्हें चढ़ावा चढ़ा कर चले जाते थे उसके बाद पुजारी जी बहुत खुश होते थे ऐसा करते हुए 7 दिन बीत चुके थे लेकिन बारिश कहीं भी नहीं हो रही थी तभी उस आदमी ने गांव वालों को बुलाया और कहा कि हमें पुजारी के पास चलना चाहिए वह हमें धोखा दे रहे हैं क्योंकि बारिश अभी तक नहीं हुई है और इस बात को 7 दिन बीत चुके हैं

राजा और साधू की कहानी

गांव वालों ने कहा कि हम तो उन्हें चढ़ावा चढ़ा चढ़ा कर थक गए हैं हमारे घर के राशन भी धीरे-धीरे समाप्त हो रहे हैं अब गांव वालों को भी समझ में आ गया था कि पुजारी उन्हें धोखा दे रहे हैं सभी लोग मिलकर मंदिर में गए और पुजारी को ढूंढने लगे कुछ देर बाद पुजारी जी अपनी पत्नी से बातें कर रहे थे कि लोग अगर ऐसा ही करते रहे तो हमें कुछ भी करने की जरूरत नहीं है और हम आसानी से खाना पीना शुरू कर सकते हैं

राजा और भिखारी में बड़ा कौन

हास्य मजेदार कहानियां : (majedar kahaniya) यह बात सभी लोगों ने सुन लिया और पुजारी को पकड़ा और उसके पीछे भागने लगे पुजारी ने देखा कि अभी यहां से बचना बहुत मुश्किल है इसलिए वहां से भाग गए उस आदमी ने कहा की आप लोगों को किसी की भी बात में आसानी से नहीं आना चाहिए पहले हमें सोचना चाहिए विचारना चाहिए तभी किसी फैसले को लेना चाहिए इसलिए जीवन में अच्छे फैसले लेने के लिए आपको सोच विचार कर ही आगे बढ़ना चाहिए. हास्य मजेदार कहानियां : (majedar kahaniya) अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे और हमे भी बताये 

 

एक आदमी की मजेदार कहानी : majedar kahaniya

यह मजेदार कहानी एक आदमी की है उसका यही कहना था की हमे अपनी जिंदगी बहुत अच्छे से बितानी चाहिए अगर हम परेशानी में रहेंगे तो हमारा जीवन भी बहुत मुश्किल में पड़ सकता है इसलिए वह कुछ भी नहीं सुनता है मगर उसे यह बात भी समझ नहीं आती थी की यह जितना जरुरी हमारी जिंदगी के लिए है उतना समझदार होना भी बहुत जरुरी है

मंगू की आदत की कहानी

वह सभी से मिलकर आ रहा था तभी उसे पता चल गया की आज राजकुमारी की सवारी आने वाली है सभी जानते है की राजकुमारी की सवारी आती है तो कोई भी बाहर नहीं निकलता है मगर उसका तो यही कहना है की मुझे इससे कोई मतलब नहीं है क्योकि राजकुमारी भी इंसान है और इसमें हमे कोई परेशानी नहीं है कुछ डॉ बड़ा सैनिक आते है और कहते है की तुम्हे यहां से चले जाना चाहिए क्योकि राजकुमारी की सवारी आ रही है तभी वह कहता है की मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है

एक समझदारी की कहानी

सैनिक कहते है की अगर तुम्हे यही लगता है की तुम्हे यह पर रहना है तो कुछ देर बाद सेनापति आयंगे और तुम्हे सजा देंगे वह कहता है की में सेनापति से बात करूँगा कुछ देर बाद सेनापति आते है और कहते है की तुम्हे यहां पर नहीं रहना चाहिए यहां से चले जाओ नहीं तो सजा मिलेगी वह कहता है की मुझे कोई मतलब नहीं है सेनापति इस बात से गुस्सा होते है और कहते है की तुम ऐसे नहीं मानने वाले हो, उस आदमी को पकड़ लिया जाता है

एक चोर की हिंदी कहानी

मगर वह राजकुमारी की सवारी को देख चूका था अब उसे यह कोई फर्क नहीं पड़ता है की उसे सजा होगी उसे राजा के पास लाया जाता है और राजा कहते है की जब सभी को मना किया गया था फिर भी तुम राजकुमारी की सवारी के पास थे अब तुम्हे सजा मिल सकती है वह कहता है की मुझे नहीं लगता है की यह सही है आप राजा है आपको अच्छे काम करने चाहिए मगर आप तो मुझे ही सजा देने लगे है जबकि मेने कुछ नहीं किया है

हास्य राजा की कहानी

यह बता सुनकर राजा कहते है की तुम क्या कहना चाहते हो वह आदमी कहता है की मेने राजकुमारी की सवारी देखी है इस बात को लेकर आप सजा दे रहे है जबकि हमारे राज्य में बहुत से काम ऐसे है जो आपने आज तक नहीं किये है उसके लिए आपको सजा क्यो नहीं मिलती है, यह सुनकर राजा चुप हो जाते है, वह आदमी कहता है की मेने कोई गलती की है तो सजा मिलनी चाहिए मगर मेने कुछ नहीं किया है यह बात सुनकर राजा उसे छोड़ देते है

majedar kahaniya :-

वह आदमी कुछ हद तक अच्छे काम भी किया करता था और कुछ ऐसे भी जिससे गांव में सभी लोग परेशान रहते है मगर फिर भी उस आदमी में कुछ अच्छाई थी, जिसके कारन वह सभी को पसंद आता था, एक आदमी की मजेदार कहानी, majedar kahaniya, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read More Hindi Story :-

एक शक्ल के दो आदमी एक कहानी

उसने की एक रोटी की मदद

ज्ञान की बातें एक कहानी

समय पर नहीं आया एक कहानी

शापित शेर की कहानी

दो भिखारी की कहानी

एक सेवक की कहानी

बीमारी से मिला छुटकारा कहानी

पारस पत्थर की कहानी

मंजिल आपके सामने हिंदी कहानी 

Leave a Reply

error: Content is protected !!