एक रोटी की मदद हिंदी कहानी, stories in hindi | hindi story

Stories in hindi | Hindi story

एक रोटी की मदद हिंदी कहानी, stories in hindi, hindi story, रास्ते में बैठा हुआ एक भिखारी भीख मांग रहा था तभी उसने एक आदमी को खड़े हुए देखा यह आदमी कभी अपने फोन की तरफ देखता और कभी भिखारी की तरफ देखता भिखारी नजरें बचाकर उसे लगातार देख रहा था वह आदमी एक छोर से दूसरे छोर पर टहल रहा था और फोन पर बात कर रहा था

एक रोटी की मदद हिंदी कहानी 

stories in hindi

stories in hindi

जब उस आदमी की बातें खत्म हो गई तो वह जाने लगा तभी भिखारी उसके पास आया और कहने लगा कि बाबूजी मुझे कुछ दे दीजिए मुझे बहुत भूख लगी है बाबू जी ने कहा कि यह तो तुम्हारे रोज का काम है कोई ना कोई आकर मांगता रहता है और अगर हम भी इस तरह सभी को कुछ ना कुछ देते रहे तो हम ही एक दिन कंगाल हो जाएंगे भिखारी कहने लगा बाबूजी आप ऐसे क्यों बात करते हो

 

मैंने आपसे थोड़ा ही मांगा है बहुत ज्यादा नहीं है अगर आप कुछ दे देंगे तो मैं अपनी भूख को मिटा पाऊंगा बाबू जी ने कहा कि आगे जाकर देखो कोई और दे देगा मुझे परेशान मत करो मुझे बहुत जल्दी है भिखारी भी उस आदमी की ओर से हट गया और अपनी place पर जाकर बैठ गया वह आदमी वहां से चला गया but उसने उसे कुछ भी नहीं दिया था

 

कुछ देर बाद भिखारी की ओर एक रिक्शेवाला गुजरा भिखारी ने रिक्शे वाले से कहा कि आज मुझे बहुत भूख लग रही है और किसी ने भी कुछ नहीं दिया है but तुम भी मेरी थोड़ी सी मदद कर दोगे तो तुम्हारा भला होगा रिक्शा वाला भिखारी के पास आया और रुक गया और कुछ सोचने लगा थोड़े सोचने के बाद उसने अपनी पोटली में से एक रोटी निकाली और भिखारी को दे दिया और कहा कि खा लो तुम्हें बहुत भूख लग रही है

 

भिखारी बहुत जल्दी-जल्दी रोटी खा रहा था रिक्शावाला उसे देख रहा था रिक्शा वाले के मन में आया लगता है इसे बहुत भूख लगी हुई है रिक्शा वाले ने अपनी दूसरी रोटी भी उस भिखारी को दे दिए और भिखारी ने वह भी खा लिया उसके बाद कहा कि इस दुनिया में मैंने बहुत से लोग देखे हैं कितना भी अमीर आदमियों हो किसी की मदद नहीं करता

 

but तुम गरीब होने के बाद भी मेरी मदद कर रहे हो तुम बहुत अच्छे इंसान हो रिक्शा वाले ने कहा कि हमें एक दूसरे की मदद करनी चाहिए अमीर और गरीब से कोई फर्क नहीं पड़ता but हमारी क्षमता किसी की मदद करने में है तो हमें उसे जरूर करना चाहिए but बहुत से लोग इस बात को नहीं समझते हैं

stories in hindi | hindi story

इस तरह रिक्शेवाला वहां से कुछ देर बाद ही चला गया दोस्तों हमने देखा कि एक अमीर आदमी ने बिल्कुल भी उसकी मदद नहीं की थी और एक गरीब आदमी ने उसकी मदद कि हमने यहां पर बहुत कुछ देखा है कि एक गरीब है तो सबकी गरीब की मदद जरूर करता है एक रोटी की मदद हिंदी कहानी, stories in hindi, hindi story, इसलिए हमें भी सबकी मदद करनी चाहिए और life में अच्छे काम करने चाहिए.

 

stories in hindi : सेठ का घमंड हिंदी कहानी 

hindi story

hindi story

life में मदद से ही सब कुछ हो सकता है but हम मदद नहीं करेंगे तो एक दिन ऐसा आएगा की हमारी मदद भी कोई नहीं करेगा life में मदद के सहारे ही चला जा सकता है यहां पर कोई नहीं है जिसे help की जरूरत कभी भी न पड़ी हो, एक गांव में सेठ रहता था उसे ऐसा लगता था की उसे कभी भी मदद की जरूरत नहीं पड़ेगी, इसलिए वह किसी से भी सही तरिके से बात नहीं करता था

 

सभी जानते थे की सेठ बहुत घमंडी है, इसलिए वह किसी की भी बात नहीं सुनता है एक दिन मौसम बहुत खराब था सेठ की तबियत बहुत ज्यादा खराब हो गयी थी एक ही नौकर था जो अभी तक आया नहीं था, क्योकि मौसम बहुत खराब था सेठ को आज बहुत ज्यादा जरूरत थी but कोई नहीं था जो उसकी आवाज को सुन सके आज सेठ को लग रहा था मुझे नहीं पता था की मेरी तबियत बहुत ज्यादा खराब हो जायेगी और मुझे help की जरूरत होगी,

stories in hindi | hindi story

तभी एक गांव वाला उधर से ही जा रहा था उसने सेठ की आवाज सुनी और अंदर चला गया था सेठ ने देखा की यह तो वही है जिससे में सही तरिके से बता भी नहीं करता था वह सेठ के लिए दवाई भी लाया था और सेठ को आज अपने ऊपर बहुत गुस्सा आ रहा था क्योकि वह बहुत घमंडी हो गया था इसलिए life में घमंड नहीं करना चाहिए अगर आपको यह कहानी (stories in hindi, hindi story) पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read More Hindi Story :-

राजा और साधू की कहानी

एक शक्ल के दो आदमी एक कहानी

उसने की एक रोटी की मदद

ज्ञान की बातें एक कहानी

एक चोर की हिंदी कहानी

एक समझदारी की कहानी

समय पर नहीं आया एक कहानी

हास्य राजा की कहानी

राजा और भिखारी में बड़ा कौन

शापित शेर की कहानी

दो भिखारी की कहानी

एक सेवक की कहानी

-मंगू की आदत की कहानी

बीमारी से मिला छुटकारा कहानी

पारस पत्थर की कहानी

मंजिल आपके सामने हिंदी कहानी 

एक अतिथि की कहानी

इनाम का लालच एक कहानी

ढोंगी पुजारी की हास्य कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!