हास्य राजा की कहानी, king story in hindi

king story in hindi

हास्य राजा की कहानी

hindi story.jpg

king story in hindi

हिंदी की कहानियां एक गांव में एक आदमी यह कहता हुआ जा रहा था कि मैं भी राजा हूं मैं ही राजा हूं उसे देखकर सभी लोग सोचने लगे कि अब तो कोई राजा है ही नहीं, यह अपने आप को राजा क्यों बता रहा है तभी उनमें से एक आदमी ने पूछा कि तुम कहां के राजा हो और यह बात तुम क्यों कह रहे हो

 

पहले तो उस आदमी ने देखा और कहने लगा कि आप लोग कौन हो जो मुझसे पूछ रहे हो मैं राजा हूं, दोनों आदमी उसकी ओर देखने लगे और कहने लगे वह तो ठीक है कि तुम राजा हो लेकिन राजा कहां के हो, यह तो बता दो तभी उस आदमी ने कहा कि मेरे साथ चलो मैं बताता हूं दोनों आदमी यही सोच रहे थे कि शायद यह अपने किसी राज्य में ले जाएगा तभी हमें बताएगा कि वह राजा है

 

जब बहुत देर हो गई उन्हें चलते हुए तो पूछने लगे कि अब बता भी दो कि तुम राजा कैसे हो उसने कहा कि अभी तो कुछ वक्त को चलना है जब तक हम अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच जाता तब तक मैं तुम्हें कैसे बताऊंगा कि मैं राजा उस जगह का हूं, दोनों आदमी परेशान होने लगे थे क्योंकि उन्हें चलते हुए बहुत देर हो गई थी लेकिन कर भी क्या सकते थे

 

वह यह जानना चाहते थे यह राजा कहां का है कुछ देर बाद एक गांव आया और उसने उसने प्रवेश किया और कहा कि बस अब आपको जल्द ही पता लग जाएगा कि मैं राजा हूं तभी गांव का एक आदमी बोला अरे नाई साहब आज किस को पकड़ लाए हो दोनों आदमी आदमी की ओर देखने लगे क्योंकि उसे नाई बता रहे थे दोनों आदमी पूछने लगे कि तुम इसे नाई क्यों कह रहे हो

 

हिंदी की कहानियां तब उसने बताया कि यह हर रोज किसी न किसी को ले जाता और कहता है कि मैं राजा हूं तभी दोनों आदमी ने पूछा कि क्या यह राजा नहीं है तभी वह आदमी बोला कि यह राजा अपने आप को मानता है और सच बात यह है कि यह अपने घर का राजा है और कहीं का भी नहीं, दोनों आदमी है सुनते ही वापिस जाने लगे क्योंकि समझ चुके थे कि आज वह किस तरह इस मुसीबत में फंसे हैं इसलिए दोस्तों इस बात पर ध्यान नहीं देना चाहिए कि रास्ते में कौन आदमी क्या बोल रहा है उसके साथ कभी नहीं होना चाहिए क्योंकि वह आपका समय ही बर्बाद करेगा.

Read More Hindi Story :-

Read More- उसने की एक रोटी की मदद

Read More-ज्ञान की बातें एक कहानी

Read More-एक चोर की हिंदी कहानी

Read More-एक समझदारी की कहानी

Read More-समय पर नहीं आया एक कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!