मंजिल आपके सामने,kahaniya in hindi with moral

kahaniya in hindi with moral

मंजिल आपके सामने हिंदी कहानी 

hindi story.jpg
kahaniya in hindi with moral

हिंदी मोरल कहानी, गरीबी भी बहुत कुछ दिखाती है, यह हमे सपने तो दिखाती है मगर उन्हें पूरा होना एक ख्वाब ही रहता है, उस घर की हालत बहुत खराब थी, सब कुछ कोई भी नहीं छुपा सकती थी, एक दिन की बात है, सुरेश अपने घर आया और उसने कहा की आज भी उसे कोई नौकरी नहीं मिली है, हर रोज नौकरी की तलाश ने उसे बहुत थका दिया था, लेकिन उसने अपना हौसला नहीं छोड़ा था,

 

सुरेश ने अपनी माँ से कहा की कब तक ऐसा ही चलता रहेगा, हम कब तक मुसीबत को झेलते रहेंगे,  उसकी माँ ने कहा की एक दिन हमारी मुसीबत जरूर दूर होंगी, हमे वो भगवान् देख रहा है, वो देख रहा है, की हम कितनी मुसीबत में है, लेकिन माँ हमे कब छुटकारा मिलेगा, बेटा यह तो मुझे नहीं पता है, लेकिन सब्र करना चाहिए, 

Advertisements

 

अगले दिन सुरेश अपने घर से निकला, और उसने देखा की एक भिखारी रोड पर खड़ा है, वह बहुत देर से खड़ा है लेकिन उसे कोई दान देता है और कोई नहीं, लेकिन वो फिर भी खड़ा है, सुरेश को ऐसा लग रहा था, की जब वो इतनी मुसीबत में खड़ा है, तो में कोयो इतनी जल्दी हार मानू, सुरेश की तलाश अभी तक जारी थी,

 

हिंदी मोरल कहानी, दो दिन बाद सुरेश को आखिर नौकरी मिल ही गयी थी, लेकिन ऐसा कैसे हुआ था, क्या यह सब आसान था, लेकिन ऐसा नहीं था, मुसीबत सब पर आती है, लेकिन जो मुसीबत को झेल जाता है, वो ही आगे बढ़ता है, और जब एक बार किसी ने सोच लिया की मुझे यह करना है, तो कोई भी नहीं रोक सकता है, इसलिए अपने लक्ष्य पर ध्यान दो और आगे बढ़ो चलते रहो और रुकना नहीं है, रुक गए तो कुछ नहीं और चलते रहे तो मनोज आपके सामने होगी, 

Read More Hindi Story :-

Read More-राजा और साधू की कहानी

Read More-एक शक्ल के दो आदमी एक कहानी

Read More- उसने की एक रोटी की मदद

Read More-ज्ञान की बातें एक कहानी

Read More-एक चोर की हिंदी कहानी

Read More-एक समझदारी की कहानी

Read More-समय पर नहीं आया एक कहानी

Read More-हास्य राजा की कहानी

Read More-राजा और भिखारी में बड़ा कौन

Read More-शापित शेर की कहानी

Read More-दो भिखारी की कहानी

Read More-एक सेवक की कहानी

Read More-मंगू की आदत की कहानी

Read More-बीमारी से मिला छुटकारा कहानी

Read More-पारस पत्थर की कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
+