जादुई पोशाक की कहानी, Panchatantra in hindi

Panchatantra in hindi

जादुई पोशाक की कहानी, panchatantra in hindi, यह कहानी एक लड़के की है, जिसे जादुई पोशाक मिल जाती है, उसके बाद उसे पता चलता है, की यह जादुई पोशाक है, जो उसके बहुत काम आ सकती है, यह पंचतंत्र की कहानी आपको पसंद आएगी, 

जादुई पोशाक की कहानी : panchatantra in hindi

panchatantra story.jpg

panchatantra in hindi

वह लड़का यही सपना देखा करता था की अगर उसे कुछ भी जादुई चीज मिल जाए तो वह उसके बहुत काम आ सकती है, वह हर रोज अपने खेत में काम करता था, वह बहुत मेहनत भी करता था, मगर उसका मन हमेशा यही सोचने में लगा रहता था. की उसे कुछ अच्छा मिल जाए मगर अभी तक उसके साथ ऐसा नहीं हुआ था, वह इस बारे में सोचता था, वह अपने खेत पर काम करके घर आ रहा था, तभी उसे रास्ते में कुछ नज़र आ रहा था, यह क्या हो सकता है,

 

वह उसके पास गया तो देखा की उस जगह पर कीवी कपडा पड़ा हुआ है मगर वह देखने में बहुत अच्छा और साफ़ भी था, शायद किसी का गिर गया होगा उसने वह उठाया तो देखा की यह एक तरह की कोई पोशाक है, उसने उसे पहनकर देखा, उसे वह अच्छी लग रही थी, मगर उसे उसके बारे में कुछ भी पता नहीं था, वह पहनकर घर जा रहा था, तभी रास्ते में उसे स्का दोस्त मिला था मगर उसने जब उसकी और देखा तो उसके दोस्त ने उसे नहीं देखा उसे तो ऐसा लग रहा था की उसका दोस्त शायद आज नाराज लग रहा है,

Read More-जादुई नहर की कहानी

Read More-दो बच्चों की कहानी

उसने ध्यान नहीं दिया था, और आगे अपने घर की चल दिया था, वह घर पहुंचा तो अपनी माँ से कहा की आज मुझे बहुत भूख लगी है और यह पोशाक भी मुझे मिली है पता नहीं है किसकी है मगर यह शायद उससे गिर गयी होगी, यह आवाज तो माँ को सुनाई दे रही थी मगर अपना लड़का नज़र नहीं आ रहा था, माँ चारो और देख रही थी तभी लड़के ने पूछा की आप कहा पर देख रही है में आपके सामने हु, मगर माँ बोली की मुझे तो कोई नज़र नहीं आ रहा है

Read More-पारस पत्थर की कहानी

Read More-राजा की अच्छाई की कहानी

यह सुनकर लड़का हसने लगता है और कहता है की आप भी मजाक कर रही है, जबकि में तो आपके सामने खड़ा हु जब उसने पोशाक हटाई तो माँ को वह दिखने लगा था माँ ने कहा की तुम यह क्या लेकर आये हो यह तो कोई जादुई चीज है और इसे पहनकर तुम नज़र नहीं आते हो, जब लड़के ने कहा की यह ऐसे काम करती है तो उसे बहुत अच्छा लगा था, क्योकि उसे इस बारे में पता नहीं था मगर माँ ने कहा की यह अच्छा नहीं है, इसे यहां से कही दूर फेंककर आओ, क्योकि यह कभी भलाई के काम नहीं कर सकती है,

Read More-राजा और भिखारी में बड़ा कौन

Read More-आसमान का रंग कहानी

मगर लड़के को यह पोशाक पसंद आ गयी थी, वह उसे अपने पास रखना चाहता था मगर माँ को यह पसंद नहीं था, क्योकि इससे वह बहुत कुछ कर सकता था, कुछ देर बाद उसके पिताजी आते है और कहते है की किस बात पर बहस हो रही है, जब उन्हें भी पता चलता है तो वह नाराज हो जाते है और कहते है की तुम कुछ भी बाहर से लेकर आ जाते हो, जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए, तुम्हे इस पोशाक की क्या जरुरत है, यह बात बताओ, अगर तुम्हारे यह काम आ सकती है तो हमे भी लगेगा की यह रखना ठीक है,

Read More-शेर और लड़के की कहानी

Read More-बकरी की नयी हिंदी कहानी

Read More-कबीले का राजा और बीरबल

मगर लड़का कुछ भी नहीं बता पा रहा था, उसे नहीं पता था की इसका क्या काम है वह तो इसे अपने खेल के लिए इस्तमाल करना चाहता था जोकि गलत है, उसके बाद पिताजी ने वह पोशाक ली और उसे नष्ट कर दिया था, उसके बाद उस पोशाक ने काम नहीं किया था, इसलिए अगर जीवन में ऐसा कुछ मिलता भी है तो उसे प्रयोग है करना चाहिए, जादुई पोशाक की कहानी, Panchatantra in hindi, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर कर सकते है, 

Read More Hindi Story :-

Read More-दादी माँ की कहानियां Read More-चाचा चौधरी और साबू का सफर

Read More-बीरबल और सेनापति की कहानी

Read More-बच्चों की पाठशाला

Read More-अकबर बीरबल की कहानी

Read More-बीरबल की समझदारी

Read More-अकबर का नया सवाल

Read More-बीरबल की नयी कहानियां

Read More-ढोंगी पुजारी की हास्य कहानी

Read More-घोड़े की हास्य कहानी

Read More-राजा और साधू की कहानी

Read More-एक चोर की हिंदी कहानी

Read More-मंगू की आदत की कहानी

Read More-राजा का वादा एक कहानी

Read More-राजा और माली की कहानी

Read More-एक अच्छी मदद की कहानी

Read More-शिक्षक की नयी सीख

Read More-इनाम का लालच एक कहानी

Read More-राजा के उपहार की कहानी   

Leave a Reply

error: Content is protected !!