अद्भुत घटनाएं, paranormal stories in hindi

paranormal stories in hindi

अद्भुत घटनाएं, (paranormal stories in hindi) यह घटनाएं कभी भी हो सकती है, इसलिए ध्यान से रहना चाहिए, क्योकि कोई भी नहीं जानता है, की कब क्या हो जाए, ऐसी घटनाएं किसी के साथ भी हो सकती है, 

अद्भुत घटनाएं, paranormal stories in hindi

paranormal stories.jpg

paranormal stories in hindi

दो दोस्त पहली बार शहर में रहने के लिए आए थे लेकिन उन्हें उस शहर में कुछ अजीब दिखाई देगा इस बारे में उन्हें बिल्कुल भी ध्यान नहीं था वे दोनों दोस्त कंपनी में काम करते थे और दोनों साथ में ही ऑफिस जाया करते थे और शाम को घर में ही साथ आते थे उन्होंने एक किराए का मकान ले रखा था जिसमें वह दोनों साथ में रहते थे उस किराए के मकान में रहने के लिए उन्हें सिर्फ एक ही हफ्ते बिताया था लेकिन एक हफ्ते के बाद उनके सामने कुछ ऐसी घटनाएं शुरू हो गई थी जिनका अनुमान भी नहीं लगा सकते थे.

 

इन् दोस्तों का नाम सुरेश और रविंदर था सुरेश की उम्र रविंद्र से 2 साल बड़ी थी यानी कि हम कह सकते हैं कि सुरेश रविंदर से 2 साल बड़ा था, दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त हैं, एक दिन एक दिन अचानक सुरेश की तबीयत खराब हो गई है, उसने रविंद्र से कहा कि मैं आज ऑफिस नहीं जा सकता है इसलिए मेरे लिए तुम एक एप्लीकेशन लगा देना जिससे कि मेरी छुट्टी मंजूर हो जाए रविंद्र ने कहा कि ठीक है तुम्हें एक चिट्ठी लिख दो मैं अपने बॉस को दे दूंगा और जिससे आप की छुट्टियां मंजूर हो जाएगी

 

तभी सुरेश ने एक चिट्ठी लिख दी और फिर कहा कि जब ऑफिस जाओ तो यह चिट्ठी साथ में ले जाना मत भूलना रविंद्र ने नाश्ता किया और सुरेश के लिए भी नाश्ता बना कर रख दिया था उसके बाद रविंद्र ने चिट्ठी उठाई और ऑफिस के लिए निकल गया जब रविंदर ऑफिस पहुंचा तो वह चिट्ठी बोस को देने के लिए देखी लेकिन वह चिट्ठी मिल नहीं रही थी रविंद्र ने अपने बैग में चिट्ठी ढूंढ लिया था लेकिन मैं चिट्ठी उसे कहीं भी दिखाई नहीं दे रही थी इसलिए रविंद्र ने अपने हाथ से एक चिट्ठी लिखी और बॉस को दे दिया और सारी समस्याओं उनको बता दी बॉस ने कहा कि ठीक है उन्हें मैं 3 दिन की छुट्टी दे देता हूं

Read More-सरल जीवन की हिंदी कहानी

 उनकी तबीयत खराब है 3 दिन बाद मुझसे आकर मिल जाएंगे जब शाम हुई तो सुरेश ने कहा कि तुम मेरी चिट्ठी ले जाना भूल गए थे जबकि रविंदर ने कहा कि मैंने तुम्हारी छुट्टी ध्यान से रखी थी लेकिन वह मुझे नहीं मिल रही थी तभी सुरेश ने कहा कि वह मिलेगी कैसे वह तो टेबल पर रखी हुई है सुरेश ने कहा कि तुम बिल्कुल भी कोई काम ध्यान से नहीं करते हो लेकिन सुरेश ने यह भी कहा कि जब कि मैंने तुम्हें बताया था कि चिट्ठी बैग में रख लेना रविंद्र को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था रविंद्र ने बैग में रखी थी लेकिन उसे नहीं मिली हो सकता है कि वह चिट्ठी उसी से वहीं पर छूट गई हो

Read More-विचार योग्य हिंदी कहानी

रविंद्र ने सुरेश से कहा कि मैंने बॉस से कह दिया है तुम्हें 3 दिन का आराम मिल जाएगा तभी आ जाएंगे इसलिए तुम्हारी छुट्टी मंजूर हो गई है इसलिए तुम आराम करो अगले दिन रविंद्र ने सुरेश के लिए नाश्ता बनाया और अपने लिए भी नाश्ता बना कर तैयार कर लिया और ऑफिस के लिए निकल गया लेकिन सुरेश को कुछ अजीब महसूस हो रहा था सुरेश ने अपने दरवाजे पर ध्यान से देखा तो उसका दरवाजा हिल रहा था तभी उसने वह दरवाजा सही तरीके से बंद कर दिया तभी अचानक किचन में से बहुत तेज आवाज आई

 

तभी सुरेश ने दौड़ते हुए देखा कि सारा सामान बिखरा हुआ नजर आ रहा है सुरेश लग रहा था कि यह काम शायद बिल्ली का हो सकता है लेकिन बिल्ली उसे कहीं नजर नहीं आ रही थी लेकिन उसे लगा कि हो सकता है बिल्ली की वजह से सामान गिर गया इसलिए उसने ज्यादा ध्यान नहीं दिया और आराम करने चला गया तभी सुरेश नहीं अपने घर के सामान को ध्यान से देखा तो बहुत सारा सामान बदला हुआ नजर आ रहा था कुछ सामान दूसरी तरफ रखा था और कोई सामान दूसरी जगह से हट गया था इसलिए उसे ऐसा लग रहा था कि यह सामान ऐसा कैसे बदल गया

Read More-इंसानियत की एक कहानी 

तभी सुरेश ने रविंद्र को फोन किया और पूछा कि क्या तुमने सामान इधर-उधर किया है रविंद्र ने कहा कि मेरे पास समय नहीं था इसलिए मैं सफाई नहीं कर पाया सामान तो वैसा का वैसा ही रखा है सुरेश को कुछ अजीब लग रहा था कुछ उसके समझ में नहीं आ रहा था तभी उसने एक बहुत तेज आवाज सुनी है और वह उस आवाज को सुनकर खड़ा हो गया तभी उसने देखा कि उसकी कुर्सी गिरी हुई है कुर्सी पर जो भी समानता वह नीचे गिर चुका था सुरेश को आप वहां पर रुकना थोड़ा भारी लग रहा था इसलिए रविंद्र को उसने फोन किया और जल्दी से घर पर बुला लिया

 

जब रविंदर घर आया तो कहने लगा कि तुमने मुझे क्यों बुलाया था कि सुरेश ने कहा कि देखो सामान सारा इधर-उधर फैल चुका है कुछ भी समझ में नहीं आ रहा मैं किसी सामान को सही तरीके से नहीं देख पा रहा हूं हर चीज बिखरी नजर आ रही है जब रात हो गई तो दोनों दोस्त सो गए हो सकते हैं वह नींद में थे तभी उन्हें कुछ आवाजें सुनाई दे रही थी वहां पर किसी के रोने की आवाज़ भी आ रही थी जब वे दोनों उठे और एक दूसरे से पूछने लगेगी क्या तुम्हें आवाज आई तभी दोनों कहने लगी कि हमने एक साथ आवाज सुनिए इस कमरे में कोई ऐसा है जो हमें कुछ बताना चाहता है

Read More-अच्छे सेवक की हिंदी कहानी

इसलिए हमें नहीं लगता कि हमें इस कमरे में रहना चाहिए इस तरह पूरी रात परेशान होने के बाद अगले दिन सुबह होते ही उन्होंने वह मकान खाली कर दिया और दूसरी जगह पर रहने चले गए उनकी यह समझ में नहीं आ रहा था कि उस मकान में ऐसा क्या है जो हमें परेशान कर रहा था जब किसी मकान में कुछ अजीब घटनाएं होती रहती हैं और जिनका आभास होने लगता है और हमें उनके बारे में कोई ज्ञान नहीं होता है तो यह सब इशारा हमारे वहां पर होने की मौजूदगी में नहीं होता बल्कि वहां पर ना होने की मौजूदगी दिखाता है

Read More-राजा और जादूगर की हिंदी कहानी

अगर आपको भी लगता है कि ऐसी कोई घटना हो रही है तो हमें उन घटनाओं के बारे में सोचना चाहिए और उनकी पूरी जांच करवानी चाहिए क्योंकि यह कोई नहीं जानता कि आगे क्या होने वाला है इसलिए हमेशा सतर्क रहना चाहिए.

Read More-डरावने कुए की कहानी

अद्भुत घटनाएं, (paranormal stories in hindi) यह जानकारी आपको कैसी लगी हमे जरूर बताये, अगर आप कुछ भी पूछना चाहते है, तो आप पूछ सकते है, अपनी राये हमे जरूर दे, 

Read More Hindi Story :-

Read More-बच्चों की कहानी

Read More-जीवन में आया बदलाव कहानियाँ

Read More-जादुई थैले की कहानी

Read More-मेरी हिंदी कहानी

Read More-बोलने वाले तोते की कहानी

Read More-राजकुमार का लक्ष्य हिंदी कहानी

Read More-पुरानी यादें हिंदी कहानी

Read More-सही ज्ञान की कहानी

Read More-उम्मीद की नयी किरण कहानी

Read More-क्या आप जानते है हिंदी कहानी

Read More-तीन चूहों की कहानी

Read More-दोस्ती की नयी कहानी

Read More-शिक्षा का महत्व कहानी

Read More-अनमोल विचार की कहानी

Read More-घोडा गाड़ी वाले का लालच कहानी

Read More-जीवन की नयी कहानी

Read More-मज़बूरी की कहानी

Read More-आलसी की हिंदी कहानी

Read More-समय का खेल एक कहानी

Read More-एक अभिमानी की कहानी

Read More-भलाई कौन करेगा कहानी

Read More-बहादुरी की कहानी

Read More-अपने मन की बात की कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!