चाचा चौधरी की कहानी, chacha chaudhary story in hindi

chacha chaudhary story in hindi

चाचा चौधरी की कहानी, (chacha chaudhary story in hindi) यह कहानी आपको पसंद आएगी यह कहानी साबू और चाचा चौधरी की है, इसमें वह दोनों घूमने जाते है और चोरो को पकड़ लेते है,  

चाचा चौधरी की कहानी : chacha chaudhary story in hindi

chacha chaudhary story.jpg
chacha chaudhary story in hindi

एक बार chacha chaudhary और साबू दोनों ही साथ में घूमने गए हुए थे तभी साबू ने कहा कि मुझे बहुत जोर से भूख लगी है तभी चाचा चौधरी ने कहा कि तुम्हें बहुत ज्यादा भूख लगती रहती है साबू ने कहा कि मैं कुछ नहीं कर सकता जब मुझे बहुत ज्यादा भूख लगती है तभी मैं आप से कहता हूं और मुझे अब बहुत ज्यादा भूख लग रही है तभी chacha chaudhary ने कहा कि जब हम घर से निकले थे तब हमने खाना साथ में खाया था मुझे तो कहीं भी भूख नहीं लग रही है

 

साबू कहने लगा कि मुझे बहुत ज्यादा भूख लगती है अगर मैं थोड़ा सा भी काम कर लेता हूं तब भी मुझे बहुत ज्यादा भूख लगती रहती है इसलिए मैं अपने आप को रोक नहीं सकता मुझे खाने को जल्दी ही कुछ ना कुछ चाहिए होगा chacha chaudhary ने कहा कि ठीक है हम आगे चलते हैं और आगे चलने पर शायद हमें कुछ खाने को मिल जाए तभी chacha chaudhary और साबू दोनों साथ में चल रहे थे अचानक ही दो चोर आए और उन्होंने एक महिला के हाथ में से बैग को लिया और भाग गए चाचा चौधरी ने जब यह देखा तो साबू से कहा कि अगर तुम उन दोनों चोरों को पकड़ लोगे तो तुम्हें जरूर खाने को मिल जाएगा

 

but साबू कहने लगा कि मुझसे तो थोड़ी भी दूरी तय करने में बहुत परेशानी हो रही है क्योंकि मुझे बहुत ज्यादा भूख लग रही है chacha chaudhary ने कहा कि तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए पहले चोर को पकड़ो तभी खाने को कुछ मिलेगा उधर महिला यह कह रही थी कि मेरा बैग दो चोर लेकर भाग गए कोई तो मेरी मदद करो उस चोर को पकड़वाने के लिए, तभी chacha chaudhary ने कहा कि वह महिला मदद के लिए बुला रही है तुम्हें जाना चाहिए तभी साबू कहने लगा कि ठीक है मैं आप के कहने पर जा रहा हूं लेकिन मुझे इसके बाद बहुत सारा खाना चाहिए होगा तभी मैं आगे के काम कर पाऊंगा मुझसे कोई भी काम नहीं होगा चाचा चौधरी ने कहा कि ठीक है जल्दी ही तुम उन दोनों चोरों को पकड़कर लेकर आओ मैं तुम्हारे लिए खाने की बहुत सारी चीजें मंगवाकर घर पर रखता हूं और घर पर जाकर तुम आराम से भोजन कर लेना

अकबर-बीरबल की कहानी

साबू ने देखा कि वह दोनों चोर कार से बहुत तेजी से भाग रहे थे और साबू भी अपनी तेजी दिखाइए और बहुत तेज उनके पीछे भागने लगा. उसके बाद साबू ने उन्हें अपनी स्पीड से पकड़ लिया और दोनों चोर पकड़े जा चुके थे तभी साबू ने पीछे मुड़कर देखा तो महिलाओं वहीं पर खड़ी थी साबू ने महिला का बैग वापस लौटा दिया but chacha chaudhary कहीं भी नजर नहीं आ रहे थे चाचा चौधरी कहां जा सकते हैं यह बात साबू को समझ में नहीं आ रही थी क्योंकि उन्हें चाचा चौधरी की बात को नहीं सुना था जब चाचा चौधरी ने कहा था कि मैं भोजन के लिए तुम्हारा घर पर इंतजार करूंगा तब साबू दूसरी तरफ ध्यान दे रहा था

अच्छे सेवक की हिंदी कहानी

इसलिए सबको यह पता बिल्कुल भी नहीं चला कि चाचा चौधरी कहां गए हैं साबू ने सोचा कि चाचा चौधरी मेरे लिए खाने का इंतजाम कर रहे होंगे इसलिए मुझे यहीं पर इंतजार करना चाहिए तब तक साबू की भूख बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी साबू बहुत ज्यादा भूख लग रही थी but chacha chaudhary कहीं भी नजर नहीं आ रहे थे चाचा चौधरी को ढूंढने के लिए साबू ने बहुत जगह पर तलाश की लेकिन chacha chaudhary नहीं नहीं मिल पा रहे थे इस तरह चाचा चौधरी के इंतजार में साबू को बस शाम हो गई साबू को बहुत ज्यादा भूख लग रही थी क्योंकि सुबह से शाम हो गई थी वह बहुत ज्यादा परेशान हो गया था अब यही है सोचने लगा कि मुझे घर पर चल कर देखना चाहिए कि कहीं चाचा चौधरी घर पर तो नहीं चले गए

इंसानियत की एक कहानी 

साबू chacha chaudhary को ढूंढने के लिए घर पर गया तो चाचा चौधरी घर पर ही थे साबू ने कहा कि आप मुझे वहां पर छोड़ कर चले गए तभी चाचा चौधरी ने कहा कि तुम पूरी बात बिल्कुल भी नहीं सुनते हो जब मैं वहां से चला था तो मैंने तुम्हें कहा था कि मैं घर पर जाकर तुम्हारा इंतजार करता हूं लेकिन तुम इस बात पर ध्यान नहीं दिया साबू भी इस बात को नहीं जानता था तभी chacha chaudhary ने कहा कि साबू के लिए खाना लेकर आओ वह भूख से बहुत ज्यादा परेशान हो गया है और उसे लगता है गुस्सा भी आ रहा है साबू परेशान होकर बैठ गया क्योंकि साबू को हो पूरी बात समझ में नहीं आई थी इसलिए परेशान था

अच्छे कार्यो का फल हिंदी कहानी

थोड़ी देर बाद ही साबू के लिए बहुत सारा खाना आ गया और साबू खाने को देखकर सब कुछ भूल गया साबू को तो सिर्फ भूखी दिखाई दे रही थी इस तरह साबू ने वह सारा खाना समाप्त किया और आराम करने चला गया chacha chaudhary ने साबू को कहा कि तुम्हें सिर्फ खाने के अलावा और कुछ भी समझ में नहीं आता अगर तुम्हें भूख लगती है तो तुम उसे बर्दाश्त भी नहीं कर सकते साबू ने कहा कि मैं बहुत ज्यादा बढ़ा हूं इसलिए मुझे भूख ही बहुत ज्यादा लगती है और जब तक मुझे भूख लगती रहती है मैं परेशान होता रहता हूं

 

chacha chaudhary ने कहा कि कभी अपने दिमाग से भी काम ले लिया करो अगर तुम्हारा दिमाग काम करेगा तो तुम सब कुछ कर सकते हो तुम चाहे तो अपनी भूख पर भी कंट्रोल कर सकते हो लेकिन तुम अपने दिमाग का इस्तेमाल ही नहीं करना चाहते तभी साबू ने कहा कि मुझे अपने दिमाग का इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है क्योंकि सबसे ज्यादा तेज आप ही का दिमाग चलता है आप ही सब कुछ सोच सकते हो और जो आप कहते हैं वैसे ही होता है इसलिए मुझे अपने दिमाग को चलाने की जरूरत नहीं है इस तरह चाचा चौधरी ने जब यह सुना तो वह चले गए क्योंकि साबू से बात करना बेकार है क्योंकि वह बिल्कुल भी समझ नहीं पाता.

चाचा चौधरी की कहानी, (chacha chaudhary story in hindi) अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर जरूर करे और हमे भी बताये,

 

चाचा चौधरी का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है

chacha chaudhary का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है यह बात सभी लोग जानते है कुछ समय बाद ही chacha chaudhary के यहां पर एक आदमी आता है वह कहता है की आपको मेरे साथ चलना होगा मुझे बहुत बड़ी परेशानी ने घेर लिया है मगर chacha chaudhary कहते है की पहले आप मुझे अपनी परेशानी बताये तभी तो में कुछ कर सकता हु मगर वह आदमी तो उन ले जाना चाहता था

अच्छे सेवक की हिंदी कहानी

chacha chaudhary साबू को कहते है की मेरे पीछे आ जाना क्योकि मुझे लगता है की यह आदमी ठीक नहीं है साबू कहता है की आप चिंता न करे में सब कुछ समझ गया हु कुछ दुरी पर जाकर chacha chaudhary कहते है की पहले मुझे यह तो बताओ की तुम परेशान क्यों हो क्योकि घर पर भी अपने मुझे कुछ नहीं बताया था तभी वह आदमी कहता है की में परेशान नहीं हु बल्कि आप कुछ देर बड़ा परेशानी में आ सकते है मगर वह मुस्कुराते है वह आदमी कहता है की आप इस समस्या में भी परेशान नज़र नहीं आ रहे है chacha chaudhary कहते है की में परेशानी में नहीं हु बल्कि तुम परेशानी में आ गए हो

chacha chaudhary story in hindi

तभी साबू आता है और कहता है की यह बात मुझे chacha chaudhary ने पहले ही बता दी थी हमे तुम पर शक हो गया था तुम्हारे सभी साथी साबू ने पहले ही पकड़ लिए है अब कुछ नहीं हो सकता है यह सुनकर वह आदमी कहता है की तुम बहुत तेज कैसे हो सकता हो तभी साबू कहता है की आपको शायद पता नहीं है की chacha chaudhary का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है उसके बाद वह आदमी पकड़ा जाता है और chacha chaudhary घर आ जाते है अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read More Hindi Story :-

विचार योग्य हिंदी कहानी

सरल जीवन की हिंदी कहानी

-डरावने कुए की कहानी

जादुई फूल की हिंदी कहानी

एक घमंडी की हिंदी कहानी

बच्चों की कहानी

जीवन में आया बदलाव कहानियाँ

जादुई थैले की कहानी

मेरी हिंदी कहानी

बोलने वाले तोते की कहानी

राजकुमार का लक्ष्य हिंदी कहानी

पुरानी यादें हिंदी कहानी

सही ज्ञान की कहानी

उम्मीद की नयी किरण कहानी

क्या आप जानते है हिंदी कहानी

तीन चूहों की कहानी

दोस्ती की नयी कहानी

शिक्षा का महत्व कहानी

अनमोल विचार की कहानी

घोडा गाड़ी वाले का लालच कहानी

जीवन की नयी कहानी

मज़बूरी की कहानी

आलसी की हिंदी कहानी

समय का खेल एक कहानी

एक अभिमानी की कहानी

भलाई कौन करेगा कहानी

बहादुरी की कहानी

अपने मन की बात की कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!