समय बदल नहीं रहा है, hindi kahani

hindi kahani

समय बदल नहीं रहा है, hindi kahani, वह सभी जिस जगह के लिए निकले थे, वह उस जगह नहीं पहुंच पाए थे, मगर उनका समय वही पर रुका हुआ था, ऐसा क्यों हो रहा था, वह नहीं जानते थे, उनके साथ कुछ अजीब हो रहा था, यह कहानी आपको पसंद आएगी, 

समय बदल नहीं रहा है : hindi kahani

hindi kahani.jpg

hindi kahani

यह रास्ता बहुत बड़ा लग रहा था, क्योकि बहुत देर से लगातार चले जा रहे थे, पता नहीं कब हम पहुंचेंगे, मगर जब हम चले थे तब भी वही वक़्त हो रहा था, और बहुत समय बाद भी वही वक़्त है, यह कैसे हो सकता है, सभी ने फिर यही कहा की वक़्त तो बदला गया है मगर शायद यह घडी ठीक नहीं चल रही है, लेकिन ऐसा नहीं लगा रहा था घड़ी खराब नहीं थी, मगर कोई भी नहीं मान रहा था, लेकिन हो भी सकता था कुछ कह भी नहीं सकते है,

 

उन्हें लग तो रहा था की समय बढ़ रहा है मगर ऐसा नहीं था जब वह घर से निकले थे तो उस वक़्त दस बजे थे जबकि घड़ी दस ही बजा रही थी मगर जब रात आधी हो रही है तब भी घड़ी में दस बजे है यह ऐसा नहीं है की अभी दस बजे है और बाद में भी दस ही बजे है, जबकि सभी घड़ी में दस ही बजे है यह बात अजीब तो लग रही थी, सभी बैठे हुए यही सोच रहे थे की हम पहुंच क्यों नहीं रहे है जबकि हमे अभी तक आधे रस्ते तक चले जाना चाहिए था,

Read More-यहां पर कोई भूत नहीं है कहानी

एक तो रात को कहि भी जाना नहीं चाहिए मगर जब सभी जाने का मन बना चुके थे तो अब डरने की क्या बात है हम सभी सुबह तक घर पहुंच जायँगे ऐसा उन्हें लगता था मगर ऐसा नहीं था, वह बहुत बार कोषसिंह कर चुके थे मगर वह सभी वही पर थे अब उन्हें यह यकीन हो गया था क्योकि उनका समय भी लग रहा था और वह कही भी नहीं जा पा रहा है, यह कैसे हो सकता है कुछ पता नहीं चल रहा था सभी कार में बैठे थे, सभी का ध्यान उसी समय पर था ऐसा नहीं हो सकता था,

Read More-मैं यहां हू हिंदी कहानी

Read More-अब क्या करे भूत कहानी

Read More-घबराहट का सामना हिंदी कहानी

हमे नहीं पता चल रहा है की हमारे साथ क्या हो रहा है यह जगह कौन सी है यहां कुछ तो है जो समझ नहीं आ रहा है सबसे बड़ी अजीब बात यह है की यहां पर कोई भी साधन नहीं दिखाई दे रहा है या पर कोई वहां भी नहीं आता है यह कैसे हो सकता है जबकि यह तो आम रास्ता है यह पर कुछ तो वहां होने चाहिए थे, मगर ऐसा नहीं था यहां पर कोई भी वहां नहीं है और हमारा समय तो ऐसा लग रहा है की यहां पर रुक गया है

Read More-वहा कोई नहीं जाता हिंदी कहानी

Read More-आज भी इंतज़ार कर रहा है

Read More-कोई उन्हें देख रहा था कहानी

Read More-भूत होने का डर कहानी

हमे कुछ भी नहीं सोचना है अब हमे वापिस चलना चाहिए, हमे पता नहीं है की यहां पर क्या हो रहा है हमे तो यहां से जाना ही होगा नहीं तो कुछ भी गलत हो सकता है ऐसा सोचकर सभी लोग वापिस जाने लगे थे वह नहीं जानते थे की क्या हुआ है मगर अब उन्हें वापिस चलने में ही भलाई थी वह घर की और चल रहे थे फिर अचनाक ही क्या होता है की वह घर पहुंच जाते है मगर अब समय सुबह का हो चूका है यह क्या हो रहा था समझ से बाहर था मगर वह घर पहुंच चुके थे यह बात आज भी उन्हें डराती है

Read More-पता नहीं कौन था कहानी

Read More-दहशत की रात एक कहानी

Read More-मेने उसे देखा था भूत कहानी

Read More-डर की हिंदी कहानी

क्योकि वह समय कुछ और था और उन्हें डर भी लग रहा था, वह उस रस्ते से बहुत बार गए थे मगर ऐसा नहीं हुआ था जब उनके साथ ऐसा हुआ तो उन्हें ऐसा भी लग रहा था की कुछ इस दुनिया में अजीब है जिसका पता श्यादा ही कोई लगा सकता है मगर जो उनके साथ हुआ था वह कोई आसान नहीं था वह डर आज भी उन्हें है, जबकि ऐसा उनके साथ फिर कभी भी नहीं हुआ था.

Read More-शापित शेर की कहानी

Read More-रात की आवाज का डर कहानी

Read More-रात की घड़ी का डर भूत कहानी

Read More-भूत प्रेत की कहानी

समय बदल नहीं रहा है, hindi kahani, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आप शेयर करे और कमेंट करके हमे भी बताये,

Read More Ghost Story Hindi :-

Read More-हवेली का डर कहानी

Read More-अनजाने सफर की कहानी

Read More-अद्भुत घटनाएं

Read More-भूत की सच्ची कहानी

Read More-सुनसान रास्ते की एक घटना

Read More-भूतों की कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!
+