सोचकर फैसला करे हिंदी कहानी, hindi stories

hindi stories

सोचकर फैसला करे हिंदी कहानी, hindi stories, यह कहानी एक फैसले की है, जिंदगी में कोई भी अहम फैसला करने के लिए आपको सोचना चाहिए तभी आप कोई फैसला कर सकते है, यह कहानी हमे यही बताती है, 

सोचकर फैसला करे हिंदी कहानी : hindi stories

hindi stories.jpg

hindi stories

वह उनकी बातें बहुत जल्दी ही मान जाता था वह इस बात की चिंता नहीं करता था की वह सही है, या नहीं, उसे यही लगता था की जो भी वह कह रहे सही कह रहे है, क्योकि जब उसके पास कोई भी काम नहीं था तब उनके पिताजी ने उसकी मदद की थी, इसलिए उसका यही मानना था की मुझे उनके सभी काम करने चाहिए, इसलिए वह किसी भी काम को मना नहीं करता था वह सभी की मदद भी करता था उसका काम घर के सभी काम करना था,

 

मालिक के बेटे में से एक ऐसा बेटा था जोकि हमेशा गलत ही करता था वह कुछ भी सही नहीं करता था क्योकि उसे तो यही लगता था की जो भी वह कर रहा है सही कर रहा है इस बता की खबर मालिक को नहीं थी, मालिक को यही लगता था की उनके सभी बेटे बहुत अच्छे है और अपना काम बहुत अच्छे से करते है, एक दिन रात के समय मालिक का बेटा कुछ पैसे लेकर कही पर जा रहा था, मालिक को नहीं पता था की वह हर रोज पैसे लेकर बाहर जाता है और उन्हें खर्च कर देता है,

Read More-कुछ पल में सब बदल गया कहानी

Read More-एक बस का इंतज़ार कहानी

Read More-गांव में नयी सोच एक कहानी

वह जब रात के समय निकल रहा था तभी उनके नौकर ने देख लिया था वह कहने लगा की आप कहा अजा रहे है मालिक का बेटा कहने लगा की किसी को भी इस बात की कोई खबर नहीं होनी चाहिए, नहीं तो अच्छा नहीं होगा, वह नौकर सभी को अच्छा ही मानता था, मगर जब नौकर की नज़र मालिक के कमरे पर गयी तो मालिक की अलमारी खुली हुई थी नौकर ने यही सोचा की अलमारी को बंद कर दिया जाए तो अच्छा होगा, नहीं तो कोई सामान गिर सकता है वह कमरे में गया तो अलमारी को जैसे बंद किया तो अलमारी से आवाज आयी और मालिक उठ गए थे,  

Read More-वक़्त-वक़्त की बात कहानी

Read More-समस्या कम हो सकती है कहानी

Read More-जीवन की अच्छी बातें कहानी

मालिक ने देखा की उनका नौकर यहां पर खड़ा है और अलमारी से बहुत से पैसे जा चुके है, मालिक को बहुत गुस्सा आ रहा था वह कहने लगे की यह काम तुम्हारा है, इसका मतलब तुम चोरी भी करते हो मगर नौकर ने कहा की इस बारे में कुछ नहीं जानता हु मुझे तो यह भी पता नहीं है की आप यहां पर पैसे रखते है जबकि मालिक इस बात को मानने को तैयार नहीं थे, वह तो यही सोच रहे थे की हमारा नौकर ऐसा भी कर सकता है

Read More-पता नहीं कौन था कहानी

Read More-समय पर समझे हिंदी कहानी

Read More-राजा और उत्सव की कहानी

जब सुबह हुई तो मालिक ने सभी को बुलाया और कहा कि यह रात के समय में चोरी कर रहा था जबकि इस बात से कोई भी यकीन नहीं कर रहा था क्योकि ऐसा बहुत बार हुआ था की पैसे रखे हुए थे मगर इसने उन्हें कभी भी नहीं लिया था मगर अजा कैसे हो गया था, मालिक ने उसे निकाल दिया था जबकि दूसरे लोग इस बात पर यकीन नहीं कर रहे थे, रात के समय में मालिक को नींद नहीं आयी थी,  वह सिर्फ लेते हुए थे,

Read More-समय महान है कहानी

Read More-राजा का सबक कहानी

Read More-अकेलापन कहानी

तभी एक आवाज आयी थी यह आवाज किसकी है मालिक उठे और अपने बेटे को देखा वह अलमारी से पैसे निकाल रहा था उन्हें यकीन नहीं हुआ था, सभी लोग वहा पर आ गये थे, मालिक ने कहा की हमारा बेटा चोरी करता है और मेने अपने नौकर को निकाल दिया था जब सुबह नौकर को वापिस लाने के लिए घर के लोग गए तो नौकर कही नहीं मिल रहा था, शायद वह अब जा चूका था और उन्हें कभी भी नहीं मिल पायेगा, उन्हें इस बात का गम का था मगर अब कुछ नहीं हो सकता था, यह कहानी आपको पसंद आयी है तो आप इसे शेयर कर सकते है  

Read More Hindi Story :-

Read More-एक समस्या की कहानी

Read More-घर-घर की बातें हिंदी कहानी

Read More-जीवन की परेशानियां

Read More-विश्वास से सब कुछ होता है

Read More-एक अजीब घटना की कहानी

Read More-जीवन की बदलती बातें कहानी

Read More-गलती मेरी थी हिंदी कहानी

Read More-भविष्य आपके हाथ में कहानी

Read More-अनजाने सफर की कहानी

Read More-एक सफर की कहानी

Read More-दादी माँ की कहानियां

Read More-दादा जी की बातें

Read More-ईमानदारी की नयी कहानी

Read More-ये मेरा फैसला है हिंदी कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!
अकेलापन एक कहानी -Click Here
+