राजा और उत्सव की कहानी, hindi kahani online

hindi kahani online

राजा और उत्सव की कहानी, hindi kahani online, यह कहानी राजा के उत्सव की है, क्योकि राजा का जन्मदिन है, मगर इसे खराब करने के लिए एक आदमी आता है, यह कहानी आपको पसंद आएगी, 

राजा और उत्सव की कहानी : hindi kahani online

hindi kahani.jpg

hindi kahani online

राजा अपने महल में आये थे, मगर उन्हें आज कुछ बदला हुआ नज़र आ रहा था, महल भी बहुत अच्छा नज़र आ रहा था, राजा ने कहा की आज ऐसा क्या है, जिसके कारण महल बहुत सजा हुआ है, दरबारी भी आ चुके थे, मगर राजा को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था, तभी एक दरबारी उठा और उसने कहा की महाराज आज आपका जन्म दिन है, आप भूल गए थे, राजा को अब समझ आ गया था की उनका आज जन्मदिन है, तभी राजा ने कहा की आज और भी कुछ इंतज़ाम किया है,

Read More-वक़्त-वक़्त की बात कहानी

सभी ने कहा की महाराज आज और भी इंतज़ाम किये गए है, आपके जन्मदिन पर सभी लोगो को दावत भी दी गयी है, उसके बाद राजा ने जन्मदिन के अपने उत्सव को देखने के लिए नगर में गए थे, जिससे अभी को राजा देख सके, उनके सभी उत्सव अच्छे से मनाये जा रहे है या नहीं, राजा नगर में पहुंच गए थे, नगर में सभी इंतज़ाम पुरे हो चुके थे, राजा ने सभी से कहा की आज हमारा जन्मदिन है आपको पता है, इसलिए यह उत्सव मनाया जा रहा है आपको बहुत से उपहार भी दिए जाएंगे, सभी लोग बहुत खुश हो गए थे,

Read More-कुछ पल में सब बदल गया कहानी

मगर इसी बीच में कोई दूसरे राज्य से भी आ गया था जो इस उत्सव को खराब करना चाहता था, मगर राजा को इस बात का पता नहीं था, वह भी इस उत्सव में आ चूका था वह यही योजना बना रहा था जिससे यह उत्सव खराब हो जाये, वह सभी जगह घूम रहा था मगर उसे कुछ पता नहीं चल रहा था की क्या किया जाए, तभी उसने सोचा की मुझे यहां पर किसी की मदद लेनी चाहिए, तभी कुछ हो सकता है वह एक आदमी से मिला और कहा की अगर तुम मेरी मदद करते हो तो तुम्हे बहुत सारा इनाम दिया जाएगा, वह खुश हो गया था,

Read More-समय महान है कहानी

Read More-राजा का सबक कहानी

उसने कहा की हमे यहां पर जो भी खाना बन रहा है उसे खराब करना होगा जिससे तुम्हे बहुत सारा इनाम दिया जाएगा, यह इनाम राजा ही देंगे, वह आदमी सोचने लगा की, ऐसा क्यों किया जा रहा है जिससे मुझे इनाम दिया जाये इससे तो राजा का उत्सव भी खराब हो सकता है वह आदमी कहने लगा की ऐसा करने से तो राजा को अच्छा है लगेगा, मगर फिर भी राजा इनाम देना चाहते है, वह आदमी कहने लगा कि अगर तुमने ऐसा किया तो इनाम मिलेगा, नहीं तो किसी और देखा जाएगा

Read More-पता नहीं कौन था कहानी

Read More-समय पर समझे हिंदी कहानी

वह आदमी कहने लगा की ठीक है जैसा आप चाहते है, वैसा ही होगा, उसके बाद वह उसे समझकर चला गया था मगर वह आदमी कुछ समझ गया था की राजा ऐसा कभी भी नहीं कर सकते है वह समझ चुका था की राजा का उत्सव जखऱाब हो जायेगा इसलिए ऐसा करने से पहले यह सब कुछ सेनापति को बता दिया गया था और उस आदमी को पकड़ लिया गया था, वह आदमी बहुत खुश था की राजा का उत्सव खराब नहीं हुआ था और वह भी पकड़ा गया था जिसने ऐसा करने की सोची थी,

Read More-ईमानदारी की नयी कहानी

Read More-ये मेरा फैसला है हिंदी कहानी

राजा ने उस आदमी को इनाम भी दिया था और उत्सव भी बहुत अच्छा मन चूका था, सभी लोग बहुत खुश थे, राजा भी खुश नज़र आ रहे थे, क्योकि उनकी जनता भी राजा की चिंता करती है जिससे वह आदमी पकड़ा गया था जो यहां पर गलत करने आया था, इसलिए हमे ईमानदार होना चाहिए, राजा और उत्सव की कहानी, hindi kahani online अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर करे,  

Read More Hindi Story :-

Read More-घर-घर की बातें हिंदी कहानी

Read More-जीवन की परेशानियां

Read More-विश्वास से सब कुछ होता है

Read More-एक अजीब घटना की कहानी

Read More-जीवन की बदलती बातें कहानी

Read More-गलती मेरी थी हिंदी कहानी

Read More-भविष्य आपके हाथ में कहानी

Read More-अनजाने सफर की कहानी

Read More-एक सफर की कहानी

Read More-दादी माँ की कहानियां

Read More-दादा जी की बातें

Leave a Reply

error: Content is protected !!
अकेलापन एक कहानी -Click Here
+