राजा के विश्वास की कहानी, hindi me kahani

hindi me kahani

हमारी हिंदी कहानी राजा के विश्वास की कहानी, (hindi me kahani, Hindi story, Hindi kahani) विश्वास पर है, विश्वास ऐसा शब्द है जिसका अर्थ आज शायद कुछ लोग भूल गए है, हम कभी किसी पर जरूरत से ज्यादा विश्वास करते है और हमे देखा हो जाता है, इसलिए सोच समझकर ही किसी पर विश्वास करे हमारी हिंदी कहानी आपको पसंद आएगी,

राजा के विश्वाश की कहानी : hindi me kahani 

hindi story.jpg

hindi me kahani

राजा ने अपने खजाने को छुपाने के लिए एक गोदाम बना रखा था जिसके बारे में किसी को भी नहीं पता था क्योंकि राजा जानता था कि अगर इस बात का किसी को पता लग जाएगा तो यहां पर खजाने की चोरी हो सकती है एक बार महामंत्री ने पूछा कि आपने खजाने की व्यवस्था को कैसे रखा है आपको मालूम है कि यहां पर चोर घूम रहे हो सकता है वह भी हमारे खजाने की ओर बढ़ जाए

 

राजा ने कहा कि तुम्हें इस बात की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है राजा ने कहा कि मैंने अपना खजाना बहुत ही अच्छी जगह पर छुपा कर रखा है कि चोरों को बिल्कुल भी इसके बारे में ज्ञात नहीं हो सकता है लेकिन महामंत्री ने बहुत जोर देकर पूछा कि मुझे तो पता होना चाहिए कि खजाना कहां पर है हो सकता है कि कभी जरुरत पड़ गई और हम उस बारे में बिल्कुल भी नहीं जानते हैं

Read More-अच्छी सोच की कहानी

Read More-सच्चे प्रेम की कहानी

इसलिए राजा ने सोचा कि महामंत्री को यह बात बता देनी चाहिए क्योंकि जरूरत पड़ने पर हो सकता है कि मुझे इनकी जरूरत पड़ जाए राजा ने महामंत्री को कहा कि मैंने अपने खजाने की व्यवस्था अपने महल के नीचे गोदाम बना रखा है जिसमें सभी खजाने की व्यवस्था कर रखी है राजा यह  बात को बिल्कुल भी नहीं जानता था कि एक दीवार के पीछे चोर खड़ा हुआ सुन रहा था वह चोर अब जान गया था कि राजा का खजाना कहां पर है इसलिए चोर बाहर गया और अपने साथियों से कहने लगा कि हमें खजाने के बारे में जानकारी मिल गई है

Read More-मन की कहानी

Read More-सूरज की कहानी

उनमें से सभी चोरों ने इस बात को जाना और फिर उसके बाद उन्होंने यह योजना बनाई कि हम एक साथ सारा खजाना नहीं लाना है इसलिए थोड़ा थोड़ा करके वहां से खजाना निकाल देना है इसलिए कुछ तो चोर रात के समय में वहां पर चोरी करने जाएंगे उसी रात को महल के नीचे बने गोदाम में चोरी हो गई और अगले दिन जब राजा ने देखा कि खजाने मै से कुछ खजाना गायब हो चुका है तो उन्होंने पूरा शक महामंत्री पर किया राजा ने महामंत्री को बुलाया और कहा कि मैंने तुम्हें इसकी जानकारी इसलिए नहीं दी थी कि तुम यहां पर चोरी कर लो

Read More-बहादुरी की कहानी

Read More-भलाई कौन करेगा कहानी

महामंत्री ने कहा कि मैं इस बारे में कुछ भी नहीं जानता हूं क्योंकि मैं तो खजाने के पास गया भी नहीं हूं और आपने मेरे ऊपर खजाने की चोरी होने का इल्जाम लगा दिया है तो राजा ने कहा कि मैंने तुम्हें ही बताया था खजाना कहां पर है और इस बारे में कोई और नहीं जानता था इसलिए राजा ने मंत्री को कैद कर लिया और कहा कि जब तक तुम खजाना वापस नहीं करोगे तब तक तुम्हें नहीं छोड़ा जाएगा

Read More-जीवन की सही राह

Read More-धन का लालच

लेकिन अगले दिन भी चोरी हो गई राजा समझ नहीं पा रहा था की चोरी किसने की है क्योंकि महामंत्री को पकड़ लिया था उसके बाद राजा ने सभी सैनिकों को इकट्ठा किया और कहा कि आज की रात तुम सभी छिपकर पहरा दोगे और हमें यह ज्ञात करना है कि चोरी कौन कर रहा है कुछ देर बाद चोर आये और सभी सिपाहियों ने चोरों को पकड़ लिया

Read More-सच्ची सेवा-भाव की कहानी

Read More-दादी की एक छोटी कहानी

राजा अब समझ चुका था कि यह चोरी चोर कर रहे थे ना कि महामंत्री, राजा ने महामंत्री को छोड़ दिया और अपनी इस हरकत के लिए क्षमा मांगी महामंत्री ने कहा कि यह हमें जिस पर बहुत ज्यादा विश्वास होता है हमें उस पर हमेशा विश्वास बनाए रखना चाहिए जीवन में विश्वास पर ही सब कुछ चलता है लेकिन कभी-कभी हमें ऐसा लगता है कि विश्वास टूट रहा है तभी हम एक दूसरे पर शक करने लगते हैं इसलिए सोच समझकर ही विश्वास करें.

अगर आपको यह कहानी राजा के विश्वास की कहानी, (hindi me kahani, Hindi story, Hindi kahani) पसंद आयी है तो आप इसे शेयर कर सकते है और कमेंट करके हमे भी बता सकते है,

Read More Hindi Story :-

Read More-अपने मन की बात की कहानी

Read More-अकबर बीरबल की कहानी

Read More-अकबर का नया सवाल

Read More-एक अभिमानी की कहानी

Read More-समय का खेल एक कहानी

Read More-बीरबल की समझदारी

Leave a Reply

error: Content is protected !!